सोलर आटा चक्की

बिजली पर होने वाला खर्चा काम हो

सोलर आटा चक्की एक बेहतरीन उपकरण है. ये आटा चक्की और सोलर सयंत्र का मिश्रण है. आटा चक्की पर सोलर सयंत्र लगाने के बाद आपको न तो किसी तरह के बिजली के बिल का खर्चा करना पड़ता है और न ही कोई डीजल का खर्चा करना पड़ता है. यह सौर ऊर्जा का सयंत्र आपको अपनी आटा चक्की की छत पर या जमीन पर लगाया जा सकता है , जहाँ पर सौर्य ऊर्जा प्लेट्स या सोलर पेनल्स सूरज की रोशनी को बिजली मैं परिवर्तित करते हैं जोकि आपकी आटा चक्की को चलाने के काम मैं आती है .

सौर्य ऊर्जा चलित आटा चक्की लगाने से आपको आ जीवन मुफ्त मैं बिजली मिलती रहती है जिससे आपकी आमदनी बहुत बढ़ जाती है और रोजाना बिजली पर होने वाला खर्चा काम हो जाता है.

अब एक बात आपके दिमाग मैं ये आती होगी की आटा चक्की को चलाने के लिए कितना बड़ा सोलर प्लांट या सौर्य ऊर्जा सयंत्र लगाना चाहिए जिससे हमारी चक्की पूरे साल बिना किसी रुकावट और पूरे दाब के साथ चलती रहे , इसका एक साधारण सा रूल है , आप अपनी मोटर के हप से डेढ़ (१.५) गुना बड़ा सौर्य ऊर्जा सयंत्र लगाएं , इससे आपकी चक्की पूरे दाब के साथ चलेगी और महीन आटा पिसेगी.

और अधिक जानकारी और खर्चे के बारे मैं जानने के लिए 9927358958 पर संपर्क करें.

Sauya urja Atta Chakki

Sauya urja Atta Chakki

Comments are closed